MCB is better than fuse

MCB

विद्युत के बढते प्रयोग के साथ उसकी सुरक्षा भी बहुत जरूरी है । Wrong Connection या किसी अन्य कारणों से हुए एक छोटे से शार्ट सर्किट, एक बड़े हादसे का कारण बन सकते है। “MCB एक ऐसा डिवाइस है जो हमारे Electrical Wire और Electrical Load को ओवर करंट से Protect करता हैं। ये हमारे घरों को शॉर्ट सर्किट से भी बचाता हैं, जिससे आग लगने की सम्भावना बहुत कम हो जाती हैं।”

MCB
MCB electrical switch

MCB को उपयोगी विद्युत के मेन सप्लाई में लगाया जाता है। और जब भी उपयोगी विद्युत की वायरिंग में कोई फॉल्ट हो या किसी प्रकार का शार्ट सर्किट हो, तो MCB तुरंत ट्रिप हो जाती है और सर्किट को ब्रेक कर देती है। मूल रूप से इन्हें घरो और कंपनी सभी जगह के वायरिंग की सेफ्टी के लिए ही लगाया जाता है।
MCB का full form Miniature Circuit Breaker है। MCB एक सर्किट ब्रेकर होता है, सर्किट ब्रेकर का काम है, कि कभी भी कोई भी इलेक्ट्रिकल फाल्ट हो तो सर्किट ब्रेकर अपने आप ट्रिप होकर सप्लाई को रोक दे। कोई समस्या या फाल्ट होने पर ऑटोमैटिक सप्लाई बंद होना ट्रिप कहलाता है।

MCB कैसे कार्य करती है ?

Miniature Circuit Breaker ओवरलोड होने पर अपने आप ही बंद हो जाती है और परिपथ तोड़ देती है जिससे परिपथ में धारा प्रवाह रुक जाता है और परिपथ में किसी प्रकार की हानि नहीं होती । और जब तक हम खुद इसे चालू नहीं करते यह बंद रहती है जिससे परिपथ में धारा प्रवाह नहीं होता । परिपथ को चेक करके और उसमें मौजूद खराबी को दूर करके दोबारा Miniature Circuit Breaker चालू कर सकते हैं ।

Miniature Circuit Breaker हमे कौन-कौन सी प्रोटेक्शन देती है?

एमसीबी हमे दो फॉल्ट होने पर प्रोटेक्शन देती है।
Overload Fault
Short Circuit Fault

ओवरलोड पर ट्रिप होने को Thermal Protection कहते है, ओर शॉर्टसर्किट ट्रिप को Magnetic Protection कहते है।

ओवरलोड ओर शॉर्टसर्किट दोनो फॉल्ट में वायर से करंट ज्यादा बहने लगता है। लेकिन ओवरलोड फाल्ट में करंट की मात्रा थोड़ी बढ़ती है, जबकि शार्ट सर्किट फॉल्ट मे करंट बहुत ही ज्यादा मात्रा में फ्लो करता है।
ओवरलोड फाल्ट तब होता है जब लोड बढ़ जाता है, जैसे कोई मोटर में ओवरलोड फाल्ट तब आएगा जब मोटर जाम चल रही होगी या फिर उस मोटर पर उसकी कैपेसिटी से ज्यादा लोड जोड़ दिया गया हो। लेकिन शॉर्टसर्किट फाल्ट तब होता है, जब शार्ट सर्किट होता है, जैसे- दो फेज वायर का आपस में भीड़ जाना या फेज वायर और न्यूट्रल वायर आपस में भीड़ जाए।

MCB Current Rating
1A, 2A, 3A, 4A, 6A, 10A, 13A, 16A, 20A, 25A, 32A, 40A, 50A, 63A
एमसीबी 1 से 63 एम्पेयर की समान्यतः उपलब्ध होती है।

Tripping Characteristics के आधार पर एमसीबी के प्रकार

Tripping Characteristics के आधार पर एमसीबी मुख्य रूप से पाँच Type के होते हैं-

Type B एमसीबी
Type C एमसीबी
Type D एमसीबी
Type K एमसीबी
Type Z एमसीबी

Type B एमसीबी

अगर किसी एमसीबी का फुल लोड करंट 10 एम्पियर हैं और यदि उसके अंदर 30 से 50 एम्पियर करंट Flow होने पर एमसीबी ट्रिप हो जाती हैं तो उसे Type B एमसीबी कहते हैं।

Type C एमसीबी

अगर किसी एमसीबी का फुल लोड करंट 10 एम्पियर हैं और यदि उसके अंदर 50 से 100 एम्पियर करंट Flow होने पर एमसीबी ट्रिप हो जाती हैं तो उसे Type C एमसीबी कहते हैं।

Type D एमसीबी

अगर किसी एमसीबी का फुल लोड करंट 10 एम्पियर हैं और यदि उसके अंदर 100 से 200 एम्पियर करंट Flow होने पर एमसीबी ट्रिप हो जाती हैं तो उसे Type D एमसीबी कहते हैं।

Type K एमसीबी

अगर किसी एमसीबी का फुल लोड करंट 10 एम्पियर हैं और यदि उसके अंदर 80 से 120 एम्पियर करंट Flow होने पर एमसीबी ट्रिप हो जाती हैं तो उसे Type K एमसीबी कहते हैं।

Type Z एमसीबी

अगर किसी एमसीबी का फुल लोड करंट 10 एम्पियर हैं और यदि उसके अंदर 20 से 30 एम्पियर करंट Flow होने पर एमसीबी ट्रिप हो जाती हैं तो उसे Type Z एमसीबी कहते हैं।

Type Tripping current Operating Time
Type B MCB Full Load Current का 3 से 5 गुना 0.04 से 13 सेकंड
Type C MCB Full Load Current का 5 से 10 गुना 0.04 से 5 सेकंड
Type D MCB Full Load Current का 10 से 20 गुना 0.04 से 3 सेकंड
Type K MCB Full Load Current का 8 से 12 गुना 0.1 सेकंड से कम
Type Z MCB Full Load Current का 2 से 3 गुना 0.1 सेकंड से कम

Poles के आधार पर एमसीबी के प्रकार

MCB

Number of Poles के आधार पर एमसीबी पाँच Type के होते हैं।

Single Pole (SP) एमसीबी
Double Pole (DP) एमसीबी
Triple Pole (TP) एमसीबी
Three Pole with Neutral [TPN (3P+N)
Four Pole (4P) एमसीबी

MCB Manufacturers

अच्छी क्वालिटी के लिए ANCHOR, PHILIPS, SCHNEIDER, SIEMENS, ABB, Havells, L & T, HAVELLS जैसी कंपनी जानी जाती है।

MCB और फ्यूज में अंतर

एमसीबी और फ्यूज का सबसे बड़ा अंतर यह है कि फ्यूज ओवरलोड होने पर टूट जाता है और इसे बदलना ही पढता है ।
जबकि एमसीबी में ऐसा नही होता इसे नहीं बदलना पड़ता केवल दोबारा ON करना होता है ।

नोट :

MCB एक Electromechanical Device हैं, जो फ्यूज़ की तरह भी काम करता हैं। जब किसी सर्किट में करंट की मात्रा ज्यादा बहने लगती हैं तो MCB अपने आप ट्रिप यानि बंद हो जाती हैं। MCB ट्रिप होने के बाद करंट आगे सर्किट में नही जा पाता, जिससे एमसीबी से जुड़े सभी लोड यानि की उपकरण सुरक्षित रहते हैं।

आज-कल लगभग हर जगह Fuse के स्थान पर MCB का उपयोग किया जाता हैं। MCB ओवरलोड के कारण ट्रिप या बंद होने के बाद, हम MCB को फिर से चालू कर सकते हैं। लेकिन फ्यूज़ को बदलना पड़ता हैं, इसमे समय और पैसा दोनों लगते हैं। इसी कारण अब लोग Fuse की जगह MCB का इस्तेमाल करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *