Computer inventor | greatest

Computer inventor

कम्प्यूटर आज हमारे दैनिक जीवन का एक हिस्सा बन चुका है | आज सामान खरीदने से लेकर डिसाइनिंग , मशीन कन्ट्रोलिंग,डाटा स्टोरेज तक के कार्य मे इसका इस्तेमाल होता है | कम्प्यूटर पे हम इंटरनेट के द्वारा मिनटों में सूचनाओ का आदान -प्रदान और विभिन्न तरह की ढेरो जंकरियां प्राप्त कर सकते हैं | कम्प्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के संयोजन से कार्य करता है | ये दोनों एक-दूसरे के पूरक हैं |


आज जिन कम्प्यूटर का हम इस्तेमाल कर रहे है, इसे इस रूप में आने के लिए बहुत लंबा सफर तय करना पड़ा है | वैक्यूम ट्यूब की पहली पीढ़ी से लेकर पाँचवी पीढ़ी तक पहुँचने में कम्प्यूटर के डिज़ाइन और कैपेसिटी मे निरंतर परिवर्तन और सुधार हुये | हमेशा यह हमारे सच्चे सहायक दोस्त के रूप मे उभरकर आया |


सदियों पहले अबेकस के रूप मे हमारे सामने आया | लकड़ी के इस अबेकस से सिर्फ गणितीय प्रश्न हल किये जाते थे |


1642 ई. मे ब्लेज़ पास्कल ने पहले Pascal calculator का आविष्कार किया, जो केवल जोड़ने का ही काम कर सकता था |

सन 1822 में British mathematician और inventor Charles Babbage ने पहला steam-powered automatic mechanical calculator बनाया, जिसे की उन्होंने “Difference Engine” या “Differential Engine” नाम दिया |

Computer inventor

यह एक simple calculator से कुछ ज्यादा था, बहुत सारे sets के numbers को एक साथ गणना करने और अंत में उत्तर hard copies में प्रदान करता था |
Ada Lovelace ने difference engine को develop करने में Charles Babbage की मदद की | अब ये polynomial equations को compute कर सकता था,और mathematical tables को automatically print करने में सक्षम था |
सन 1837 में, Charles Babbage ने पहला general mechanical computer की description सोची, जो Difference Engine का successor था, जिसका नाम उन्होंने analytical engine सोचा जिसे integrated memory और punch cards के मदद से program किया जाना था, लेकिन ये Charles Babbage के जीवित रहते पूर्ण नहीं हो पाया |


बाद में सन 1991 में Henry Babbage जो Charles Babbage के सबसे छोटे बेटे थे, उन्होंने इस machine का एक हिस्सा पूर्ण किया जो की प्राय सभी basic calculations कर पाने में सक्षम था |

Computer inventor: conclusion

Computer inventor
Computer inventorचार्ल्स बेबेज


चार्ल्स बेबेज को कम्प्यूटर का जनक कहा जाता है | क्योंकि सबसे पहले इन्होंने ही प्रोग्रामेबल डिजाइन पे ‘डिफरेंशिअल इंजन’ नाम के मैकेनिकल कैल्कुलेटर का आविष्कार 1822 में किया था | जो आधुनिक कम्प्यूटर की खोज मे मददगार साबित हुआ” |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *