Brake and Braking System is 1 important part of Automobile

Brake and Braking System

Barking System Automobile का अहम part है Brake को एक ऐसा अवयव कहा जा सकता है जिसके द्वारा एक गतिमान वस्तु पर, artificial frictional resistance लगाकर, उसको रोका जा सकता है या उसकी गति को कम किया जा सकता है ।
ब्रेक एक Important part है।

Types of brake

Mechanical ब्रेक
Electrical ब्रेक
Hydraulic ब्रेक
Air ब्रेक and related type of ब्रेक

Mechanical ब्रेक

हर चीज की starting Mechanical फॉर्म से ही हुई है। mechanical ब्रेक, ब्रेक का पहला Type है जिसमे mechanism का use Mechanical ब्रेक में ब्रेक के रूप में होता है

Mechanical Brake system

Electrical ब्रेक

इनका उपयोग क्रेनों और अन्य प्रकार के यंत्रों को चलानेवाले बिजली के मोटरों की रफ्तार को बंद करने तथा रोकने के लिए किया जाता है। यह मुख्यतया दो प्रकार के होते हैं – Solenoid friction ब्रेक, Dynamic ब्रेक

Hydraulic ब्रेक

यह braking mechanism की एक व्यवस्था है इसमें ब्रेक तरल पदार्थ का उपयोग करता है, जिसमें आमतौर पर ethylene glycol होता है, जो controlling mechanism से braking mechanism पर दबाव स्थानांतरित करता है ।

Hydraulic brake system

Air ब्रेक

ट्रेन में एयर ब्रेक होता है जो बस और ट्रक में भी होता है। यह इंजन सहित पूरी रेलगाड़ी में काम करता है, इसमें एक पाइप होता है जिसमें हवा भरी होती है। ब्रेक-शू को यही हवा आगे-पीछे करती है और ब्रेक-शू के रगड़ खाने पर ब्रेक लगने लगती है। गाड़ी को चलाने के लिए ब्रेक पाइप में प्रेशर बनाया जाता है ताकी ब्रेक शू पहिये को अलग किया जा सके, तभी गाड़ी आगे बढ़ पाती है। क्या आप जानते हैं कि भारतीय रेल के ब्रेक पाइप में 5 किलोग्राम प्रति वर्ग-सेंटीमीटर का प्रेशर रहता है। एयर ब्रेक को काफी सुरक्षित और अच्छा माना जाता है।

Automobile braking system में Air ब्रेक के कुछ part Brake Pipe, Piston, Cylinder, ब्रेक Block,Compressed Air इसमें Brake pedal press करने पर Compressed Air piston को push करती है इसमें Cycle जैसे ब्रेक block होते है यह block wheels पर friction पैदा करते है जिससे व्हील की speed कम हो जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *